ममता ने शिवसेना और एनसीपी नेताओं से भी की मुलाकात

नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल सीएम और तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने में जुटी हुई हैं। विपक्षी पार्टियों की एकजुटता के लिए ‘वन टू वन’ की नीति पर चल रहीं ममता ने शिवसेना और एनसीपी नेताओं से भी मुलाकात की है। इन मुलाकातों ने राजनीति के पारे को एकदम से उठा दिया है। ममता बनर्जी से मुलाकात के संबंध में पूछे गए सवाल पर शिवसेना ने कहा है कि अगर पीएम मोदी पाकिस्तान जाकर नवाज शरीफ से मिल सकते हैं तो पार्टी ममता बनर्जी से क्यों नहीं मिल सकती।

ममता बनर्जी से मुलाकात के बाद शिवसेना का टोन बीजेपी के लिए थोड़ी चिंता का विषय बन सकता है। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि पीएम पाकिस्तान जाकर नवाज शरीफ से मिल सकते हैं तो ममता बनर्जी तो हमारे देश के एक राज्य की मुख्यमंत्री हैं। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी भी कभी एनडीए का हिस्सा रह चुकी हैं और वह अछूत नहीं हैं। इससे पहले ममता बनर्जी ने मंगलवार को शिवसेना के अलावा एनसीपी चीफ शरद पवार से भी मुलाकात की।

बुधवार को ममता बनर्जी दिल्ली में अरविंद केजरीवाल के अलावा बीजेपी नेता अरुण शौरी, यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा से भी मुलाकात करने वाली हैं। ममता की ताबड़तोड़ सियासी बैठकों के बाद ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि शायद वह बीजेपी के खिलाफ गैर-कांग्रेसी दलों का एक गठजोड़ तैयार करने में जुटी हैं। ऐसी चर्चाएं इसलिए भी हो रही हैं कि ममता बनर्जी ने हाल में ही टीआरएस अध्यक्ष और तेलंगाना सीएम के चंद्रशेखर राव से मुलाकात कर उनकी फेडरल फ्रंट की संभावनाओं को भी समर्थन दिया है।

हालांकि ममता बनर्जी अपनी तरफ से ऐसा कोई स्पष्ट संकेत देने से बच रहीं हैं। ममता बनर्जी का कहना है कि वह कांग्रेस के भी संपर्क में हैं। सोनिया गांधी के अस्वस्थ होने की वजह से उनकी मुलाकात नहीं हो पाई है। सूत्रों के मुताबिक उम्मीद जताई जा रही है कि बुधवार शाम ममता बनर्जी और सोनिया गांधी की मुलाकात हो सकती है। ममता बनर्जी की रणनीति है कि ‘वन टू वन’ की नीति पर क्षेत्रीय दलों की मदद से 2019 के चुनाव में बीजेपी को हर प्रदेश में घेरा जाए।

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी शिवसेना के सजंय राउस, एनसीपी चीफ शरद पवार के अलावा समाजवादी पार्टी नेता राम गोपाल यादव, टीडीपी के सांसदों, आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव की बेटी मीसा भारती और डीएमके की कनिमोझी से मुलाकात कर चुकी हैं। इसके अलावा ममता बनर्जी ने टीआरएस चीफ के चंद्रशेखर राव की बेटी के कविता से भी मुलाकात की है।