केजरीवाल की हिसार रैली में रुपए देने का वादा कर बुलाए गए लोग?

हिसार. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने रविवार को हिसार के पुराना कॉलेज ग्रांउड में एक रैली की थी। रैली में उन्होंने केंद्र और हरियाणा सरकार को निशाने पर लिया और वादा किया कि हरियाणा में उनकी पार्टी की सरकार बनने पर ना सिर्फ किसानों के लिए आयोग की सिफारिशें लागू की जाएगी बल्कि स्वास्थ्य, शिक्षा, कानून व्यवस्था और भ्रष्टाचार के मुद्दों पर भी बेहतर काम किया जाएगा।

 

हालांकि अब उनकी रैली से जुड़ी जो जानकारी सामने आ रही है, वह हैरान करने वाली है। केजरीवाल सरकार में मंत्री रह चुके और इन दिनों केजरीवाल पर हमलावर कपिल मिश्रा ने रैली के बाद का एक विडियो शेयर किया, जिसमें रैली में शामिल होने आए कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि उन्हें रैली के बाद 350 रुपए और खाना देने को बोलकर यहां लाया गया था।

विडियो में आम आदमी पार्टी की टी शर्ट और टोपी लगाए दिख रहे ये मजदूर खुद को बहादुरगढ़ का बता रहे हैं। विडियो में दिख रहा एक मजदूर बताता है, ‘हम अपनी मर्जी से आए थे और कहा गया था कि रैली खत्म होने के बाद 350 रुपए दिए जाएंगे। हम 118 लोग आए थे और 350 रुपए में तय किया था, मगर अब कह रहे हैं कल पैसे लेना आकर।’

एक अन्य विडियो में भी कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि हम लोग बहादुरगढ़ मंडी में करते हैं। सुबह कुछ लोग आए और बोले थे कि तुम लोगों को दिहाड़ी देंगे और चाय-नाश्ता भी देंगे, मगर अभी तक ना पैसे दिए हैं और ही कुछ खाने को दिया है। देखें विडियो-

रविवार को रैली में केजरीवाल ने कहा था कि हरियाणा की पूर्व हुड्डा सरकार ने जिस भ्रष्टाचार को शुरू किया था, उसे खट्टर सरकार ने पांच गुना आगे बढ़ा दिया। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘बीजेपी और कांग्रेस ने वोट की राजनीति का लाभ लेने के लिए हरियाणा में जाटों और गैर जाटों के बीच दंगे करवाए। पिछले तीन साल के दौरान हरियाणा में जातिवाद के नाम पर काफी हिंसा हुई है और खट्टर सरकार गहरी नींद में है।’ देश के बैंकों को असुरक्षित बताते हुए केजरीवाल ने प्रधानमंत्री से कहा कि वह देश की जनता को बताएं कि लोगों का पैसा लेकर भागे नीरव मोदी और विजय माल्या को स्वदेश वापस कब लाया जा रहा है।