राज्यसभा चुनाव: वोट डालने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ से मिले रघुराज प्रताप सिंह

नई दिल्ली. राज्यसभा की 59 सीटों के चुनाव में आज 26 सीटों के लिए मतदान हो रहा है. बीएसपी विधायक अनिल सिंह ने मायावती को झटका देते हुए बीजेपी के पक्ष में मतदान किया है. इससे हो सकता है कि 10वीं सीट के लिए बीएसपा का गणित बिगड़ जाए. इससे पहले बीजेपी को कम से कम 12 सीटों को फायदा होने की उम्मीद है. इसके बाद वह राज्यसभा में सबसे बड़ी पार्टी बन जाएगी. हालांकि इसके बाद भी वह बहुमत से दूर रहेगी. राज्यसभा में 245 सदस्य होते हैं. कांग्रेस को चार सीटों का नुकसान हो सकता है. राज्यसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, झारखंड, छत्तीसगढ़, केरल और तेलंगाना में वोट डाले जाएंगे. उत्तर प्रदेश में 10 सीटों के लिए 11 उम्मीदवार हैं. जिनमें 8 सीटें बीजेपी का जीतना तय है लेकिन मामला 10 वीं सीट के लिए फंसा है. शाम 5 बजे तक नतीजे आने शुरू हो जाएंगे.

निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने वोट डालने के बाद सीएम योगी से मुलाकात की है. इससे पहले उन्होंने कहा था कि उनका वोट सपा में ही जाएगा. हालांकि अभी तक ये साफ नहीं है कि उनका वोट किसको गया है.

दो कांग्रेस नेताओं ने पहले बैलेट पेपर में क्रॉस वोटिंग की है. इसके बाद पीठासीन अधिकारी ने नए बैलेट पेपर उनसे वोट डलवाए. अवैध वोटिंग चल रही है. हमने चुनाव आयोग से इस बारे में अपील की है. कर्नाटक में जीडीएस के वरिष्ठ नेता एचडी कुमारस्वामी

बीजेपी के (324 विधायक यानी 324 वोट, 8 पर जीत तय, नौवीं सीट के लिए 28 वोट बचेंगेय जीत के लिए 37-28=9 वोट की ज़रूरत. सपा के नितिन अग्रवाल बीजेपी के साथ. BSP विधायक अनिल सिंह BJP के साथ. निषाद पार्टी के 1-1 निर्दलीय विधायक साथ. जीत के लिए अभी 5 और वोटों की ज़रूरत.

सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि एसपी, कांग्रेस, बीएसपी के कुछ विधायक पाला बदल सकते हैं रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने कहा- सपा प्रत्याशी को वोट दूंगा.

यूपी में बीजेपी नेता का दावा, अनिल अग्रवाल को अरूण जेटली से भी ज्यादा वोट मिलेंगे. निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी ने भी बीजेपी को वोट दिया. कहा- महाराज जी ( योगी आदित्यनाथ) के साथ हैं. गणित सिर्फ बीजेपी को नहीं, समाजवादी पार्टी को भी आती है : सपा एमएलसी सुनील साजन

बीजेपी के सभी 9 प्रत्याशी जीतेंगे. समाजवादी पार्टी ने कार्यकर्ताओं और लोगों का अपमान किया है. पार्टी ने समाज का मनोरंजन को करने वाले को अपना प्रत्याशी बनाया है न कि उसे जो समाज की सेवा करते हैं. सपा विधायक नितिन अग्रवाल (नरेश अग्रवाल के बेटे)