अररिया में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगने के मुद्दे पर नवनिर्वाचित सांसद ने बीजेपी पर साधा निशाना

नई दिल्ली. अररिया में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगने के मुद्दे पर नवनिर्वाचित सांसद सरफराज आलम ने बीजेपी पर निशाना साधा है.  उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ऐसे नारे नहीं लगाए हैं. सब बीजेपी वाले ही करवाते हैं. उन्होंने कहा कि हम लोग देशविरोधी नारेबाजी और ऐसा काम नहीं करते, यह सब बीजेपी का ही कराधरा है.
सरफराज आलम ने कहा कि मामले की जांच होनी चाहिए. बीजेपी की जमीन खिसक गई है, इसलिए ऐसे आरोप लगा रहे हैं. इनकी बातें बनाने से कुछ नहीं होगा और सब चीजें सामने आ जाएंगी. वहीं तेजस्वी यादव ने भी सरफराज आलम का बचाव करते हुए कहा कि वायरल वीडियो जिसमें कुछ लोग सरफराज आलम की चुनावी जीत के बाद पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी कर रहे हैं, उसकी जांच होनी चाहिए. तेजस्वी ने इस बात की भी आशंका जताई की वायरल वीडियो के साथ छेड़छाड़ की गई होगी. उन्होंने मांग की पुलिस को पहले इस वीडियो को फॉरेंसिक लैब में जांच करवाना चाहिए और इसकी सत्यता की पड़ताल करनी चाहिए.

बता दें कि अररिया में देश विरोधी नारेबाजी करने के मामले में पुलिस ने शुक्रवार को दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने सज्जाद और सुल्तान आजमी नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जबकि तीसरे आरोपी आबिद रजा की तलाश जारी है. गौरतलब है कि 14 मार्च को अररिया लोकसभा चुनाव में आरजेडी की जीत के बाद जश्न के माहौल में कुछ युवाओं ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे.
देशविरोधी नारेबाजी को लेकर बवाल खड़ा हो गया था. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि अररिया उपचुनाव के नतीजे पूरे देश के लिए खतरा हैं. यह केवल सीमावर्ती इलाका नहीं है, और न केवल बंगाल और नेपाल से जुड़ा मामला है. क्योंकि ये इलाका अब आतंकियों का गढ़ बनेगा. बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने आरोप लगाया कि कुछ दिनों के बाद अररिया पाकिस्तान और आतंक का अड्डा बन जाएगा.
सुब्रमण्यम स्वामी ने गिरिराज के बयान का किया समर्थन
बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने अररिया में पाकिस्तान के जिंदाबाद नारे के मामले पर आज तक से बातचीत में कहा कि हमारे जो मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा उन्होंने यह पहले ही चेतावनी दे दी थी. वह सही बात बता रहे हैं. हालांकि उनकी प्रतिक्रिया लोगों को पसंद नहीं आई लेकिन गिरिराज सिंह ने जो चेतावनी दी वह सही है. किसी भी हालत में उग्र तबके को बख्शना नहीं चाहिए. उग्र तबका हमें मारना चाहता है. तो हम भी उनको खत्म करना चाहते हैं.
जिस पर राबड़ी देवी सहित आरजेडी के तमाम नेताओं ने विरोध जताया और कहा कि गिरिराज सिंह को ऐसा बयान नहीं देने चाहिए. राबड़ी देवी ने कहा कि हार से बीजेपी के लोग बौखलाए हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *