अति आत्मविश्वास का भाजपा को खामियाजा भुगतना पड़ा : योगी

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों के उपचुनाव के नतीजों में बड़े अतंर से मिली हार के बाद भाजपा में सन्नाटा सा पसरा हुआ है। शुरुआत से ही जैसे संकेत मिल रहे थे उससे काफी हद तक चुनाव परिणाम की तस्वीर साफ थी।

गोरखपुर और फूलपुर में हार स्वीकारते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा कि हमें जनता का फैसला स्वीकार है। हम हार की समीक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि गोरखपुर और फूलपुर से ऐसे परिणामों की उम्मीद नहीं थी। योगी ने कहा कि इन दोनों सीटों पर अति आत्मविश्वास का भाजपा को खामियाजा भुगतना पड़ा है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम सपा-बसपा के गठबंधन को नहीं समझ सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जो बेमेल राजनीतिक सौदेबाजी का प्रयास शुरू किया गया है, जनता उसको समझती है।

सीएम योगी ने कहा कि दोनों चुनावों के नतीजे हमारे लिए सबक है, इसकी समीक्षा की जरूरत है। योगी ने कहा कि फैसले को स्वीकार करते हैं और जीते हुए प्रत्याशी को बधाई देता हूं। उन्होंने कहा कि हार की समीक्षा के बाद कमियों को दूर करने का प्रयास होगा।

भविष्य के लिए योजना तैयार की जाएगी। उपचुनावों में स्थानीय मुद्दे हावी रहते हैं, आम चुनावों में राष्ट्रीय मुद्दे मुख्य रूप से सामने आते हैं। योगी ने कम मतदान प्रतिशत को भी हार का एक बड़ा कारण बताया।