नगालैंड : राज्यपाल पीबी आचार्य, रियो और 11 मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई

कोहिमा. नगालैंड में नवनिर्वाचित सरकार में नेफ्यू रियो ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। यह पहला ऐसा मौका था जब नगालैंड में मुख्यमंत्री और उनके सहयोगियों ने इस तरह के सार्वजनिक रूप से शपथ ग्रहण की। रियो राजभवन के बाहर पहली बार मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले पहले मुख्यमंत्री बने। शपथग्रहण समारोह में उत्तर-पूर्वी राज्य मणिपुर सीएम एन बीरेन सिंह, अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री प्रेमा खांडू, असम के सीएम सर्बानंद सोनोवाल और मेघालय के सीएम कोनराड संगमा शामिल हुए।

कोहिमा में हुए शपथ- ग्रहण समारोह का स्थल काफी खास है कि एक दिसंबर, 1963 को यहीं से तत्कालीन राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने नगालैंड राज्य के गठन की घोषणा की थी। नेशनल डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी( एनडीपीपी) हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी के साथ मिलकर इस पूर्वोत्तर राज्य की सत्ता संभाल चुकी है। गठबंधन ने एनडीपीपी के वरिष्ठ नेता नेफ्यू रियो को मुख्यमंत्री चुना है।

राज्यपाल पीबी आचार्य, रियो और 11 मंत्रियों को मैदान के मुख्य मंच से पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहें। अभी तक राज्य में शपथ- ग्रहण समारोह इतने बड़े स्तर पर आयोजित नहीं होता था और राज भवन के दरबार हॉल में मुख्यमंत्री तथा मंत्रिपरिषद को शपथ दिलाई जाती थी जिसमें वीवीआईपी, वीआईपी और शीर्ष नौकरशाह ही उपस्थित रहते थे।