त्रिपुरा का नेतृत्व विप्लव देव को सौंपेगी भाजपा, बनेंगे नए सीएम

नई दिल्ली. त्रिपुरा विस चुनाव में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद वहां के लिए मुख्यमंत्री के नाम पर चल रहे कयासों पर अब विराम लग गया है। आज मंगलवार को हुई भाजपा संसदीय दल की बैठक में त्रिपुरा के सीएम पद के लिए फैसला लिया गया। भाजपा त्रिपुरा का नेतृत्व विप्लव देव को सौंपेगी। वहीं जिष्णुदेब को वहां का उपमुख्यमंत्री बनाया जाएगा। बताते चलें कि त्रिपुरा में सीएम सीट के लिए विप्लव देव का नाम सबसे ऊपर चल रहा था। बताते चलें कि विप्लव देव त्रिपुरा में भाजपा अध्यक्ष हैं। विप्लव ने त्रिपुरा की बनमालीपुर विधानसभा सीट से किस्मत आजमाई थी।

मुख्यमंत्री बनने की दौड़ में विप्लव इसलिए भी सबसे आगे रहे, क्योंकि वे लो-प्रोफाइल रहते हुए अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाना जानते हैं। चुनाव परिणा के वक्त उन्हें भाजपा महासचिव राम माधव के साथ मंच भी साझा करते देखा गया। चुनाव नतीजों से पहले भी ऐसे संकेत मिल रहे थे कि त्रिपुरा में विप्लव को भाजपा की कमान दी जा सकती है।

विप्लव देव ने त्रिपुरा यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की है। उनके खिलाफ एक भी आपराधिक मामला दर्ज नहीं है। बनमालीपुर (पश्चिमी त्रिपुरा) में विप्लव का मुकाबला ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस के कुहेली दास से है। विप्लव ने नामांकन पत्र के साथ दिए ऐफिडेविट में अपनी आय मात्र 2,99,290 रुपये बताई है। विप्लव कुमार लंबे समय से राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े हुए हैं। या यूं भी कह सकते हैं कि राजनीति की शुरुआत उन्होंने आरएसएस से जुड़ने के बाद ही की है। 48 वर्षीय विप्लव साल 2018 में पहली बार चुनाव लड़े हैं।