त्रिपुरा विस चुनाव : चुनावी भाषण में पीएम मोदी ने सत्ताधारी सीपीएम सरकार पर साधा निशाना

अगरतल्ला। जैसे-जैसे त्रिपुरा विधानसभा चुनाव की तारीख नजदीक आती जा रही है राजनीतिक दलों के आरोप-प्रत्यारोप तेज़ होते जा रहे हैं। बृहस्पतिवार को त्रिपुरा के सोनामुरा पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने चुनावी भाषण में जहां एक ओर राज्य की सत्ताधारी सीपीएम सरकार को कटघरे में खड़ा किया तो दूसरी तरफ कांग्रेस को भी आड़े हाथों लिया।
पीएम मोदी ने त्रिपुरा की सीपीएम सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि त्रिपुरा ने गलत माणिक पहना दी है। उन्होंने कहा कि अब माणिक नहीं चाहिए, माणिक से मुक्ति ले लो क्योंकि अब आपको हीरा चाहिए। उन्होंने कहा कि हीरा का एच मतलब है हाईवे, आई मतलब है आई वे (डिजिटल कनेक्टिविटी), आर मतलब है रोडवे और ए मतलब है एयर वे।
उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की योजना बंद करने का झूठ फैलाया गया है। उत्तर-पूर्वी राज्यों की अहमियत को लेकर बोलते हुए मोदी ने कहा कि जब त्रिपुरा का भाग्य बदलेगा तो देश का भाग्य बदलेगा। मोदी ने कहा कि रोज वैली जैसे घोटाले ने गरीब लोगों को तबाह कर दिया है। जिन लोगों ने गरीबों को लूटा है उन्हें सज़ा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा की मौजूदा सरकार ने अपने खिलाफ बोलने वाले लोगों के मन में खौफ का वातावरण पैदा कर दिया है।
मोदी ने कहा कि हमारे देश में 51 शक्ति पीठ का हर कोई स्मरण करता है। जिनमें से एक देवी त्रिपुरा सुंदरी हैं। ये उसी का स्थान है। मैं उस धरती को नमन करता हूं। उन्होंने आगे कहा कि त्रिपुरा विकास के नए पायदान को छूना चाहता है। यहां के लोग ज्यादा से ज्यादा रोजगार पाने के महत्वाकांक्षी हैं। मोदी ने कहा कि हम त्रिपुरा के लिए तीन टी पर फोकस कर रहे हैं और वो है- ट्रेड, टूरिज्म और युवाओं के लिए ट्रेनिंग ताकि उन्हें चमकने का अवसर मिल सके। वहीं त्रिपुरा रैली के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने काग्रेस को भी जमकर आड़े हाथों लिया। मोदी ने कहा कि लाठी से लोकतंत्र चलाना कांग्रेस की परंपरा है।