NDvsSA : लंच तक टीम इंडिया के 4 विकेट पर 76 रन, पुजारा डटे मैदान में दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 286 रन बनाए हैं.

केपटाउन. भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच चल रहे पहले टेस्ट मैच में मेजबान टीम ने पहले दिन अपनी पहली पारी में 286 रन बनाए. इसके जवाब में पहली पारी में बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत काफी खराब रही. उसके 3 बल्लेबाज सिर्फ 28 रनों के स्कोर पर गिर गए. सलामी बल्लेबाज मुरली विजय सिर्फ 1 रन बना सके. उनके बाद शिखर धवन भी एक गलत शॉट खेलकर डेल स्टेन का शिकार बने. टीम इंडिया को सबसे बड़ा झटका विराट कोहली के रूप में लगा. उन्हें मोर्ने मोर्कल ने अपना शिकार बनाया.

पहले दिन 3 विकेट जल्दी गिरने के बाद क्रीज पर आए चेतेश्वर पुजारा और रोहित शर्मा ने दूसरे दिन टीम इंडिया को संभाला. दाेनों ने संभलकर खेलते हुए टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया. लेकिन जब टीम का स्कोर 57 रन था, उसी समय टीम इंडिया को कागिसो रबाडा ने बड़ा झटका दिया. उन्होंने रोहित शर्मा को 11 रन पर एलबीडब्लयू कर दिया. हालांकि उन्होंने पारी को संकट से निकालने के लिए काफी संघर्ष किया, लेकिन कामयाब नहीं हो सके. क्रीज पर अब चेतेश्वर पुजारा का साथ देने के लिए आर अश्विन आए हैं. टीम का स्कोर 36 ओवर में 4 विकेट पर 76 रन हो चुका है.SCORECARD

2nd Day पहला सत्र : भारत की धीमी शुरुआत, रन नहीं बने, पर विकेट बचे भारत : 76/4 रन
भारत ने दूसरे दिन का खेल 28 रन से आगे बढ़ाया. टीम के तीन विकेट गिर चुके थे. ऐसे में सारी जिम्मेदारी चेतेश्वर पुजारा और रोहित शर्मा पर थी.

Ist Day तीसरा सत्र : केशव महाराज और रबाडा ने बढ़ाया सिरदर्द, दक्षिण अफ्रीका : 286 रन, ऑलआउट
पहले दिन टी के बाद दक्षिण अफ्रीका के पुछल्ले बल्लेबाजों ने ने टीम इंडिया का सिरदर्द बढ़ा दिया. एक समय लग रहा था कि टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका को 250 रनों से पहले समेट देगी, लेकिन पुछल्ले बल्लेबाजों ने ऐसा होने नहीं दिया. खासकर केशव महाराज और कागिसो रबाडा ने 8वें विकेट के लिए 37 रन जोड़कर अपनी टीम को 250 रन के पार पहुंचा दिया. 258 रन के स्कोर पर केशव महाराज रन आउट हुए. दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 70 ओवर में 9 विकेट पर 282 रन हो गया है. दक्षिण अफ्रीका में रबाडा के रूप में आर अश्विन को अपना पहला विकेट मिला और टीम को 9वीं सफलता. भुवनेश्वर कुमार ने मैच में 4 विकेट लिए. एक-एक विकेट बुमराह, पांड्या और शमी को मिले.

Ist Day दूसरा सत्र : भारत ने विकेट तो लिए, लेकिन रन नहीं रोक पाए, दक्षिण अफ्रीका 230/7 रन
लंच तक जिस तरह से अफ्रीका के बल्लेबाज एबी डिविलियर्स और कप्तान फाफ डु प्लेसिस बल्लेबाजी कर रहे थे, लग रहा था अफ्रीका बड़ा स्कोर बनाएगा. दोनों के बीच 114 रनों की साझेदारी हुई. लेकिन लंच के बाद जसप्रीत बुमराह एक नए रंग में लौटे. उन्होंने 32वें ओवर की आखिरी गेंद पर अफ्रीका का सबसे कीमती विकेट हासिल कर लिया. ये विकेट था 65 रनों पर खेल रहे डिविलियर्स का. इस तरह से ये बुमराह का पहला टेस्ट विकेट साबित हुआ. अफ्रीका का स्कोर 4 विकेट पर 126 रन हो गया.

इसके बाद टीम को अगली कामयाबी दिलाई ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने. उन्होंने डु प्लेसिस को बड़ी पारी खेलने से रोक दिया. कप्तान को उन्होंने 62 रनों पर आउट कर दिया. स्कोर हो गया 142 रन पर 5 विकेट. इसके बाद वेर्नोन फिलेंडर और क्विंटन डिकॉक ने अपनी टीम के लिए तेज साझेदारी की. दोनों ने छठे विकेट के लिए तेज तर्रार 59 रनों की साझेदारी की. खासकर डिकॉक ने 40 गेंदों पर 43 रनों की पारी खेलकर अपनी टीम को 200 के पार पहुंचाया. 43 के स्कोर पर डिकॉक को भुवनेश्वर कुमार ने चलता किया. इसके बाद 221 के स्कोर पर मोहम्मद शमी ने मैच का पहला और टीम के लिए 7वां विकेट लिया. टी टाइम तक अफ्रीका के 7 विकेट गिर गए.

Ist Day पहला सत्र भुवनेश्वर और डिविलियर्स-डु प्लेसिस के नाम, दक्षिण अफ्रीका 107/3 रन
भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच सीरीज का इंतजार जिस शिद्दत के साथ हो रहा था, उसका आगाज भी वैसा ही हुआ.टॉस जीतकर मेजबान अफ्रीका ने बल्लेबाजी चुनी. मैच से पहले ही कहा गया था कि इस पिच पर शुरुआत में तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी. भुवनेश्वर ने इस भविष्यवाणी को सच कर दिखाया. उन्होंने एक के बाद एक तीन झटके देकर अफ्रीकी टीम की आंखें खोल दीं. जब दक्षिण अफ्रीका के स्कोर बोर्ड पर सिर्फ 12 रन टंगे थे, उस समय उनके 3 खिलाड़ी आउट हो चुके थे. टीम गहरे संकट में फंसी हुई दिख रही थी. लेकिन इसके बाद मोर्चा संभाला एबी डिविलियर्स और डु प्लेसिस ने. दोनों ने संभलकर खेल आगे बढ़ाया. दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 114 रनों की साझेदारी हुई. लंच तक अफ्रीका की टीम ने 26 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 107 रन बनाए.

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, ऋद्धिमान साहा, हार्दिक पंड्या, आर अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह.

दक्षिण अफ्रीका: फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), एबी डिविलियर्सए डीन एल्गर, एडेन मार्कराम, हाशिम अमला, क्विंटन डिकाक, केशव महाराज, मोर्ने मोर्कल, डेल स्टेन, वर्नन फिलेंडर, कागिसो रबादा.