कांग्रेस ने ‘आप’ के एनडी गुप्ता के नामांकन पर किया विरोध, लगाए आरोप

नई दिल्ली. आप के राज्यसभा उम्मीदवारों को लेकर विवाद थमता नहीं दिख रहा है. नामांकन की मियाद खत्म हो चुकी है और अब कांग्रेस ने तीन में से एक प्रत्याशी का नामांकन रद्द करने की मांग की है.
दरियागंज रिटर्निंगर आॅफिसर को दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने इस संबंध में लिखित शिकायत दी है. जिसमें माकन ने आप के राज्यसभा प्रत्याशी नारायण दास गुप्ता पर आॅफिस आॅफ प्रॉफिट का आरोप लगाते हुए उनका नामांकन रद्द किए जाने की मांग की है.
अजय माकन ने अपने शिकायती पत्र में लिखा है कि नारायण दास गुप्ता 30 मार्च 2015 को नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट के ट्रस्टी नियुक्त किए गए थे और अभी तक वो इस पद को संभाल रहे हैं. माकन ने शिकायत में दावा किया कि ये आॅफिस आॅफ प्रॉफिट का मामला बनता है, ऐसे में जनप्रतिनिधि कानून के तहत एनडी गुप्ता का राज्यसभा सीट के लिए किया गया नामांकन रद्द किया जाना चाहिए. अजय माकन का दावा है कि केंद्र सरकार की नेशनल पेंशन स्कीम के पास 1 लाख 20 हजार करोड़ का फंड है.
इससे पहले अजय माकन ने आम आदमी पार्टी (आप) को ‘बीजेपी की बी टीम’ देते हुए दावा किया था एन डी गुप्ता को एक केंद्रीय मंत्री से उनकी ‘नजदीकियों’ की वजह से पार्टी ने राज्यसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी बनाया है. माकन ने आरोप लगाया कि ‘आप’ बीजेपी के समर्थन से एनडी गुप्ता को राज्यसभा भेज रही है.
बता दें कि इससे पहले आम आदमी पार्टी की तरफ से दिल्ली की तीन राज्यसभा सीटों पर उम्मीदवारों के नाम घोषित होने के बाद अजय माकन ने एक ट्वीट किया था. जिसमें उनके साथ सुशील गुप्ता हाथ जोड़े खड़े नजर आ रहे हैं. अजय माकन ने लिखा था कि सुशील ने 28 नवंबर को कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दिया था और कहा था कि उनसे राज्यसभा का वादा किया गया है.
दिल्ली से आम आदमी पार्टी के तीनों उम्मीदवारों की राज्यसभा सीटें पक्की मानी जा रही हैं. शुक्रवार को राज्यसभा की तीन सीटों के लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख थी और किसी ने भी आप उम्मीदवारों के खिलाफ नामांकन नहीं किया है. जिसके बाद तीनों उम्मीदवारों का निविर्रोध चुना जाना तय हो चुका है.
शनिवार को नामांकन पत्रों की छंटनी की प्रक्रिया पूरी होने के बाद 8 जनवरी को नाम वापस लेने की अंतिम तारीख है. तीनों सीटों पर वोटिंग की तारीख 16 जनवरी है.