श्रीनगर : हिमस्खलन से एक की मौत, 9 लोग लापता

श्रीनगर। उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के टंगधार में साधनाटॉप के पास शुक्रवार को हुए हिमस्खलन में तीन वाहन बर्फ में दब गए। इसमें एक बीकन कमर्चारी की मौत हो गई और नौ लोग अभी लापता बताए जा रहे हैं। बर्फ में दबे तीनों वाहनों का भी कोई सुराग नहीं मिल पा रहा है। वहीं एक बच्चे समेत दो लोगों को बचा लिया गया है। सेना, बीकन विभाग व पुलिस का युद्धस्तर पर राहत अभियान जारी है लेकिन खराब मौसम बाधा बना हुआ है।
कुपवाड़ा से सात स्थानीय लोगों को लेकर टंगधार जा रही लाल रंग की सूमो (जेके09ए-3249) जब साधनाटॉप इलाके से गुजर रही थी तो पहाड़ से हुए हिमस्खलन की चपेट में आने से वह नीचे जा गिरी और बर्फ में दब गई। इस वाहन के पीछे आ रहे एक अन्य यात्री वाहन में सवार एक बच्चे सहित तीन लोगों ने जब अपने सामने यह हादसा होते देखा तो बचाने के लिए आगे बढ़े, लेकिन पहाड़ से हुए हिमस्खलन की चपेट में आने से वह भी बर्फ में दब गए। इसी दौरान टंगमर्ग से कुपवाड़ा जा रहा बीकन विभाग का एक अन्य वाहन भी हिमस्खलन की चपेट में आ गया। इसमें सवार दो बीकन कमिर्यों में एक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। तीन वाहनों के हिमस्खलन की चपेट में आने की जानकारी मिलते ही स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचित किया।
इसके बाद बर्फ में दबे लोगों को तलाशने के लिए युद्धस्तर पर अभियान शुरू हुआ। काफी मशक्कत व विपरीत मौसमी परिस्थितियों के बीच सात साल के एक बच्चे और बीकन कमर्चारी को घायल हालत में बाहर निकाल लिया गया। बच्चे की हालत स्थिर बताई जा रही है। कुछ देर बाद एक बीकन कर्मी का शव भी बरामद हो गया, लेकिन नौ लोगों का देर शाम तक कोई सुराग नहीं मिला। एसपी कुपवाड़ा शमशेर सिंह ने बताया कि हिमस्खलन में मारे गए बीकन कमर्चारी की पहचान (47) मंगल प्रसाद सिंह पुत्र शिव राज सिंह, निवासी अयर सरैया, वाराणसी, उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। बता दें कि कश्मीर के डिवीजनल कमिश्नर ने बुधवार को ही मौसम विभाग की चेतावनी के बाद क्षेत्र में हिमस्खलन का अलर्ट जारी किया था। साथ ही कुपवाड़ा समेत सभी ऊपरी इलाकों में रहने वाले लोगों को एहतियात बरतने की सलाह भी दी गई थी।
कश्मीर में लंबे समय से चल रहा शुष्क मौसम का दौर शुक्रवार को समाप्त हो गया और गुलमर्ग सहित वादी के सभी उच्च पवर्तीय इलाकों में बफर्बारी और निचले क्षेत्रों में बारिश का सिलसिला शुरू हो गया। इधर, जम्मू में दिन में धूप निकलने से थोड़ी राहत मिली, लेकिन शाम होते ही फिर सर्दी से जोर पकड़ लिया।
मौसम विभाग के अनुसार, अगले चौबीस घंटों के दौरान वादी में हिमपात जारी रहने की संभावना है। मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की थी कि पांच जनवरी से पश्चिमी हवाओं के सक्रिय होने से मौसम बदलेगा। हुआ भी वैसा ही, शुक्रवार तड़के ही गुलमर्ग व पहलगाम समेत वादी के ऊपरी इलाकों में बफर्बारी शुरू हो गई, जो दिनभर रुक रुककर जारी रही। गुलगर्म में शाम तक आठ इंच, पहलगाम में छह इंच और सोनमर्ग में दस इंच ताजा बर्फ जमा हो गई थी। निचले इलाकों में भी दिनभर रुक रुककर बूंदाबांदी होती रही।