गुजरात विधानसभा चुनाव : राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बोला जबरदस्त हमला

अहमदाबाद, गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर जारी घमासान के बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सूबे के ताबड़तोड़ दौरे कर रहे हैं. शनिवार को एक बार फिर राहुल तीन दिवसीय गुजरात दौरे पर पहुंच गए हैं. इस बार वह उत्तर गुजरात का दौरा कर रहे हैं. यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गढ़ माना जाता है. राहुल गांधी गुजरात के हिम्मतनगर पहुंचने पर बीजेपी समर्थकों ने उनको काले झंडे दिखाए.
सबारकांठा में रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जबरदस्त हमला बोला. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद सूरत की इंडस्ट्री तबाह हो गई. मोदी ने बिना किसी से पूछे जीएसटी लागू किया. GST गब्बर सिंह टैक्स है, जो गरीबों की कमाई छीनता है.
उन्होंने कहा कि पीएम मोदी और वित्तमंत्री अरुण जेटली किसान गरीब की बात नहीं समझते हैं. मोदी सरकार को गरीबों की तनिक भी परवाह नहीं है. मोदी गरीब के मन की बात नहीं समझते. उन्होंने ईमानदार लोगों को बैंक के आगे खड़ा कर दिया और बैंक के पीछे हिंदुस्तान के चोर थे. चोरों ने मोदी की मदद से कालेधन को सफेद किया.
राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार ने उद्योगपतियों  का कर्ज माफ कर दिया, लेकिन किसानों का नहीं किया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार मन की बात नहीं करेगी. किसानों और गरीबों की बात सुनेगी. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार चीन में सरदार पटेल की मूर्ति बना रही है.
राहुल गांधी ने अपने दौरे की शुरुआत मंदिर जाकर की. सबसे पहले वो गांधीनगर के अक्षरधाम मंदिर गए और वहां करीब 15 मिनट तक रहे. मंदिर में उन्होंने पहले तिलक लगाकर पूजा अर्चना की. इस दौरान उनके साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहे. राहुल गांधी ने अपने गुजरात दौरे के शुरुआत में ही जीएसटी को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा.
कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि गब्बर सिंह टैक्स की न तो गुजरात को जरूरत है और  न ही देश को. उऩ्होंने कहा कि कांग्रेस पहले ही कह चुकी है कि देश को सिंपल जीएसटी चाहिए, लेकिन मोदी सरकार ने बिना किसी सलाह मशविरा के ही आधी रात को जीएसटी को लागू कर दिया. लिहाजा कांग्रेस और देश ने दबाव बनाया और मोदी सरकार को जीएसटी मेें बदलाव करना पड़ा.
सिर्फ एक टैक्स स्लैब चाहती है कांग्रेस
राहुल गांधी ने कहा कि हम तब ही रुकेंगे, जब गुजरात समेत पूरा देश गब्बर सिंह टैक्स से मुक्त हो जाएगा और असली जीएसटी लागू हो जाएगा. हम पांच अलग-अलग टैक्स स्लैब नहीं चाहते हैं. हम सिर्फ एक स्लैब चाहते हैं. जीएसटी में बुनियादी सुधार की जरूरत है. उन्होंने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी की वजह से पूरे देश में काफी संख्या में लोग बेरोजगार हो गए. कांग्रेस ज्यादा  से ज्यादा महिलाओं क टिकट देना सुनिश्चित करेगी. राहुल गांधी अपनी यात्रा के दौरान जब हिम्मतनगर पहुंचे तो यहां उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा. यहां बीजेपी समर्थकों ने राहुल गांधी के काफिले को काले झंडे दिखाए. राहुल गांधी ने सबारकांठा में प्रांतिज में जनसभा को भी संबोधित किया और पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की.
राहुल गांधी ने साबरकांठा जिले के प्रातिज पहुंचकर ब्रेक फास्ट किया. इस दौरान उन्होंने चाय पीने के अलावा पकोड़ा, खाखरा और फाफड़ा खाया. जब उनसे पूछा गया कि उनको ब्रेक फास्ट में सबसे ज्यादा अच्छा क्या लगा, तो उन्होंने कहा कि उनको फाफड़ा ज्यादा अच्छा लगा.
चिलोदा में राहुल के भाषण की मुख्य बातें-
सिर्फ 5 उद्योगपतियों की मदद करती है सरकार. सरकार ने किसानों की जमीन छीनकर उद्योगपतियों को दी. गुजरात की जनता ने सरकार को टैक्स घटाने पर मजबूर किया. महिलाओं को लोकसभा, राज्यसभा में आरक्षण देंगे. तीन दिवसीय सड़क यात्रा के दौरान राहुल गांधी उत्तर गुजरात के छह जिलों का दौरा करेंगे. इस दौरे में वह महिलाओं, ग्रामीणों और विभिन्न समुदाय के लोगों के साथ मुलाकात करेंगे. वह शनिवार शाम को बनासकांठा जिले में अम्बाजी मंदिर भी जाएंगे. इसके बाद वह अम्बाजी में ही ठहरेंगे.
हाल के दिनों में राहुल ने सौराष्ट्र, मध्य गुजरात और दक्षिण गुजरात में ऐसी प्रचार यात्राएं की हैं. शनिवार से शुरू हो रहे राहुल गांधी के नवसर्जन गुजरात यात्रा के चौथे और आखिर चरण के तहत राहुल गांधीनगर, साबरकांठा, बनासकरांठा जिले का दौरा करेंगे.
इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने भी अम्बाजी मंदिर का दौरा किया था, जो प्रसिद्ध मंदिर 52 शक्ति पीठों में से एक है. गुजरात में ही नहीं बल्कि देश में भी अम्बाजी मंदिर को बड़ी अहमियत है. इसके अलावा उत्तर गुजरात को बीजेपी का मजबूत गढ़ माना जाता है. इतना ही नहीं गुजरात में पाटीदार आंदोलन का मुख्य केंद्र भी उत्तर गुजरात था. यहां राहुल जिन रास्तों से गुजरेंगे, उन जिलों में ठाकोर और पाटीदार समुदाय की बड़ी आबादी है.