कार्तिक पूणिर्मा स्नान पर बेगूसराय अफवाह से मची थी भगदड़, 4 की मौत

पटना। आज सुबह से ही लोगों में गंगा स्नान करने की होड़ लगी हुई है लेकिन गंगा स्नान के बीच ऐसा दिल दहलाने वाला एक मामला सामने आया जिससे लोगों के बीच अफरा-तफरी मच गई। इस घटना में चार लोगों की कुचलकर ददर्नाक मौत हो गई।
मामला बिहार के बेगूसराय जिले के सिमरिया घाट का है जहां 4 बजे सुबह से ही श्रद्धालुओं का गंगा स्नान करने के लिए हुजूम दिखने को मिल रही था। लाखों की संख्या में लोग गंगा स्नान कर पूजापाठ करने में लगे हुए थे। इसी दौरान फैली एक अफवाह ने अचानक भगदड़ का रूप ले लिया जिसमें चार लोगों की कुचलकर ददर्नाक मौत हो गई तो दजर्नों घायल बताए जा रहे हैं।
मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए देने की घोषणा
नीतीश कुमार हालांकि सभी को इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है लेकिन घटना स्थल पर अभी भी अफरा-तफरी है। प्रशासन लगातार लोगों से शांति की अपील कर रहा है। वहीं घाट पर कुछ लोगों की ओर से पुलिस के खिलाफ गुस्सा भी देखने को मिल रहा है। वहां के लोगों ने पुलिस प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया तो बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मरने वाले सभी के परिजनों को चार-चार लाख मुआवजा देने का ऐलान किया है। अफवाह ने की स्थिति बेकाबू आपको बता दें कि बेगूसराय के सिमरिया घाट पर पहले से ही अधर्कुंभ मेले का आयोजन किया गया था। जिसकी वजह से वहां काफी भीड़ लगी रहती थी। इसी दौरान आज गंगा स्नान को लेकर लाखों की संख्या में श्रद्धालु सिमरिया घाट के पास पहुंचे जहां पूजा-पाठ को लेकर फैली अफवाह के बीच अचानक भगदड़ मच गई। भूत की अफवाह से कई लोग डर गए और भागने लगे, इससे मौके पर भगदड़ ने स्थिति बिगाड़ दी।
सूत्रों की अगर मानें तो शांतिपूर्ण चल रहे गंगा स्नान के बीच पूजा-पाठ को लेकर किसी ने अफवाह फैला दी की यहां भूतों का खेल हो रहा है जो अब लोगों पर आक्रमण करेगा इतनी बात सुनने के बाद वहां उपस्थित लोग अपनी जान बचाकर इधर-उधर भागने लगे और इस दौरान मची भगदड़ में ये ददर्नाक हादसा हो गया। वहीं इस घटना के बाद लोगों ने प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा करना शुरू कर दिया। स्थानीय लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि भारी संख्या में लोगों के जुटने के बाद भी ठीक व्यवस्था नहीं थी।