फिल्म को यूए सर्टिफिकेट चाहिए तो किस सीन को 70 फीसदी तक करें छोटा

नई दिल्ली। सेंसर बोर्ड का नया अध्यक्ष हाल ही में पहलाज निहलानी को हटाकर प्रसून जोशी को बनाया गया है। पहलाज निहलानी का कायर्काल सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष के तौर पर विवादों से भरा रहा। वे जाते-जाते भी अपने पीछे एक विवाद छोड़कर गए हैं। यह विवाद जैकलीन फर्नांडीज और सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म अ जेंटलमैन को लेकर है। निहलानी ने सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पद पर रहते हुए अ जेंटलमैन को लेकर यह फैसला सुनाया कि यदि फिल्म को यूए सर्टिफिकेट चाहिए तो प्रोड्यूसर सिद्धार्थ और जैकलीन के किस सीन को 70 फीसदी तक छोटा करें। बोर्ड ने इस सीन को अनावश्यक बताया है।
निहलानी के अध्यक्षता में बोर्ड इससे पहले ऐ दिल है मुश्कलि में अनुष्का शर्मा और रणबीर कपूर के किस सीन और जेम्स बॉर्ड सीरीज की फिल्म में दिखाए गए ऐसे ही सीन पर आपत्ति जता चुका है। सूत्रों का यह भी कहना है कि फिल्म का नाम भले ही जेंटलमैन हो, लेकिन किसिंग सीन के दौरान हीरो अपनी लिमिट भूल जाता है। बताया गया है कि निर्देशक राज और डीके ने बॉलीवुड की अब तक की फिल्मों का सबसे लंबा किसिंग सीन फिल्माया है। इसलिए बोर्ड ने इसे छोटा करने को कहा है। साथ ही अंग्रेजी में कहे गए कुछ अपशब्दों को हटाने को भी कहा है।
अपनी फिल्म अ जेंटलमैन का फर्स्ट लुक जारी करते हुए सिद्धार्थ मल्होत्रा और जैकलीन फर्नांडीस ने कहा था कि उनकी आगामी फिल्म ‘रीलोड’ का नाम बदलकर ‘ए जेंटलमैन-सुंदर, सुशील, रिस्की’ रखा गया है। उन्होंने मारधाड़ से भरपूर इस फिल्म की कुछ झलकियां दिखाने के लिए एक वीडियो भी शेयर किया था। ये फिल्म 25 अगस्त को रिलीज होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *