उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का रास सभापति के तौर पर किया गया स्वागत, पीएम मोदी ने भी की तारीफ

नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद राज्यसभा में सभापति के तौर पर वेंकैया नायडू का स्वागत किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नायडू का राज्यसभा में स्वागत करते हुए कई बड़ी बातें कहीं। पीएम मोदी ने कहा कि वह संसद में अपने लंबे अनुभव के बाद इस उच्च पद को संभालने आए हैं। उन्होंने कहा कि वह देश के पहले उपराष्ट्रपति हैं, जिनका जन्म स्वतंत्र भारत में हुआ। वेंकैया जी बहुत अच्छी तरह जानते हैं कि राज्यसभा कैसे काम करता है। लंबे समय से सदन में रहने के कारण उन्हें पता है कि यह कैसे कार्य करता है।
पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘सभी सांसदों, चाहे वे महनमोहन सिंह सरकार के रहे हों या मेरी सरकार के, अपने क्षेत्रों में प्रधानमंत्री सड़क योजना की मांग करते रहे हैं और यह योजना हमें हमारे नए उपराष्ट्रपति नायडू जी ने भेंट की है।’ इस वक्त देश के सभी शीर्ष पदों पर विभिन्न पृष्ठभूमियों के लोग हैं। उन्होंने कहा, ‘आज देश के सभी शीर्ष पदों पर विभिन्न पृष्ठभूमियों के लोग हैं, जो हमारे संविधान की परिपक्वता को दर्शाता है।’ ‘मेरी सरकार में शहरी विकास मंत्री रहते हुए भी वह ग्रामीण तथा कृषि मंत्रालयों के कार्यो में रुचि लेते रहे। वह किसान के बेटे हैं। उन्होंने हमेशा ग्रामीण भारत के विकास के बारे में बात की। नायडू ने उपराष्ट्रपति के तौर पर हामिद अंसारी की जगह ली है, जिन्होंने अगस्त 2007 से लगातार दो कायर्काल के लिए इस पद पर सेवा दी थी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन के दरबार हॉल में आयोजित सादे समारोह में नायडू को पद की शपथ दिलाई है।