मिल रही लगातार हार के बाद केजरीवाल जल्द कर सकते हैं पार्टी में कुछ बदलाव

नई दिल्ली। पंजाब, गोवा विधानसभा चुनावों के बाद दिल्ली नगर निगम चुनाव में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पार्टी में बड़े बदलाव की तैयारी में हैं। पार्टी में इस बदलाव की शुरुआत दिल्ली से होगी। निगम चुनाव में हार की जिम्मेदारी लेते हुए प्रदेश संयोजक दिलीप पांडे ने अपना स्तीफा पार्टी को दे दिया था। जिसके बाद अरविंद केजरीवाल ने गोपाल राय को दिल्ली में पार्टी के संयोजक बनाया था। दिल्ली में पार्टी के संगठन स्तर पर बदलाव के लिए केजरीवाल आज पार्टी के तमाम विधायकों और जिला इकाइयों के नेताओं से मिल रहे हैं।
अरविंद केजरीवाल इस बैठक मैं तमाम नेताओं से फीडबैक लेकर जिला स्तर से लेकर के प्रदेश स्तर तक संगठन में बड़ा बदलाव करने की तैयारी कर रहे हैं। चुनाव में लगातार मिल रही हार के बाद पार्टी नेतृत्व में बदलाव की मांग को उठने लगी थी। दिल्ली में संगठन के बदलाव के बाद दूसरे राज्यों में भी पार्टी अपने संगठन में बदलाव कर सकती है। निगम चुनाव से सबक लेते हुए केजरीवाल सबसे पहले दिल्ली के अंदर ही वार्ड से लेकर जिला तक और जिला स्तर से लेकर प्रदेश स्तर तक संगठन में सभी पदों पर बदलाव करने की तैयारी में हैं जिसके लिए जमीनी स्तर पर कार्यकर्ताओं और नेताओं से राय ली जा रही है। निगम चुनाव में मिली हार की वजह पर समीक्षा के दौरान सामने आए तथ्य भी इस बदलाव में इस्तेमाल किए जाएंगे। पार्टी के भीतर नेताओं के अंदर चल रहा द्वंद जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं का मनोबल तोड़ रहा है। ऐसे में संगठन में बदलाव से पहले पार्टी के अंदर की लड़ाई को खत्म करने की जरूरत सबसे ज्यादा है।