शहीद की बेटी का कहना है कि एक सिर के बदले 50 सिर चाहिए

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तान द्वारा दो जवानों की हत्या और उनके शवों के साथ बर्बरता के बाद भारत ने भी पाकिस्तान को कड़ा जवाब दिया है और पाकिस्तान की तीन चौकियों को तबाह कर दिया है। उधर, शहीद नायब सूबेदार परमजीत सिंह का शव पंजाब के तरनतारन पहुंच गया है। उनके घर में मातम का माहौल है। भारी संख्या में लोग उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे हैं। वहीं यूपी के देवरिया के शहीद प्रेम सागर को भी अंतिम विदाई दी जा रही है। शहीद प्रेम सागर की बेटियां भी पाकिस्तान पर कारर्वाई की मांग कर रही हैं। शहीद की बेटी का कहना है कि एक सिर के बदले 50 सिर चाहिए।
पाकिस्तान ने कृष्णा घाटी सेक्टर में युद्धविराम का उल्लंघन किया और फायरिंग की आड़ में भारतीय जवानों की पेट्रोलिंग टीम के दो जवानों की हत्या कर दी। सेना ने बताया है कि इन दोनों भारतीय जवानों के शवों के साथ पाक सेना ने बर्बरता की है। सेना की उत्तरी कमान की प्रेस रिलीज के मुताबिक-पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम जिसे बैट कहा जाता है उसने इस कायरता पूर्ण वारदात को अंजाम दिया।
पाकिस्तान द्वारा बनाए गए बूबी ट्रैप में भारतीय सेना और बीएसएफ़ के जवान फंस गए और इसकी वजह से दो जवानों को अपनी जान गवानी पड़ी। यही नहीं पाकिस्तान की सेना ने भारतीय सेना के शहीद हुए जवानों के शवों के साथ बर्बरतापूर्ण व्यवहार किया। बीएसएफ़ ने जो रिपोर्ट मंत्रालय को दी है, उसके मुताबिक़ इनपुट ये मिला था कि कुछ लैंडमाइन एक नाले में पाकिस्तान सेना बिछा रही है। उसकी पुष्टि करने जब जवान गए तब वे बूबी ट्रैप में फंस गए। एक सीनियर अफ़सर ने एनडीटीवी को बताया, “फ़ॉर्वर्ड डेफेंस लाइन में लैंड माइन की जानकारी मिली तो सेना की टुकड़ी उसकी पुष्टि करने वहां गई, तभी पाकिस्तान ने कायरतापूर्ण हमला कर दिया।