सपा में पोस्टर वार भी जारी, रामगोपाल की फोटो काटकर निकाली

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले समाजवादी पार्टी में मचा घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। दोनों ही गुट जहां कार्यकर्ताओं को अपनी-अपनी तरफ रिझाने की कोशिशों में जुटे हैं वहीं पोस्टर वार भी जारी है। दिल्ली में मुलायम सिंह के घर अखिलेश विरोधी खेमे की बैठक हुई तो मुलायम सिंह के घर के बाहर एक पोस्टर पर सबका ध्यान गया। इस पोस्टर से रामगोपाल की फोटो काटकर निकाल दी गई है।
बेटे अखिलेश के साथ जारी घमासान के बीच नेताजी मुलायम सिंह यादव सबसे अधिक अपने चचेरे भाई रामगोपाल यादव पर भड़के हुए हैं। बुधवार को लखनऊ में मुलायम सिंह यादव समथर्कों के बीच पहुंचे तो कहा कि पार्टी को टूटने नहीं दूंगा। मुलायम रामगोपाल यादव पर खासे नाराज दिखे और कहा कि वह बहुत पहले से ही मोटरसाइकिल चुनाव चिन्ह के साथ अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी बनाने में लगे थे। रामगोपाल पर बीजेपी से मिले होने का आरोप लगाते हुए मुलायम सिंह यादव ने कहा कि अगर उन्हें अपने बेटे और बहू को बचाना था तो दूसरों के पास जाने से अच्छा था कि उनसे मदद मांगते। मुलायम ने अपने कार्यकर्ताओं को यह भरोसा दिलाना चाहा कि वह पार्टी को टूटने नहीं देंगे।
मुलायम सिंह ने कहा कि पार्टी की एकता के लिए हमने हर कदम उठाए। जो हमारे पास था, सब दिया। मुलायम ने कहा आप हमारे साथ हमेशा रहे। इस बीच वहां मौजूद कार्यकर्ताओं ने मुलायम सिंह जिंदाबाद के नारे लगाए। मुलायम ने कार्यकर्ताओं से कहा कि आपकी चिंता स्वाभाविक है, क्योंकि पार्टी बड़े संघर्ष से बनी है। उन्होंने आगे कहा कि मैं दिल्ली गया था की हमारी पार्टी की एकता में कोई बाधा न डाल पाए। अखिलेश गुट पर निशाना साधते हुए मुलायम ने सपा कार्यकर्ताओं से कहा कि ना हम अलग पार्टी बना रहे हैं, ना सिंबल बदल रहे। वो (विपक्षी गुट) दूसरी पार्टी बना रहे हैं।
हालांकि, इस बीच खबरें हैं कि पार्टी में घमासान थमते नहीं देख अखिलेश अकेले चुनाव प्रचार अभियान शुरू करने की तैयारी में हैं। मुलायम सिंह यादव और शिवपाल अभी दिल्ली में हैं जहां शुक्रवार को दोनों पक्षों को पार्टी सिंबल पर चुनाव आयोग के सामने आपनी-अपनी बात रखनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *