नागवाड़ा में युवती के साथ हुई छेड़छाड़ में खुद फंसा जीजा

बेंगलुरू। नागवाड़ा में युवती के साथ हुई छेड़छाड़ की घटना में फंसे जीजा के खिलाफ पुलिस को कई सुबूत मिले हैं। पीड़िता का का 34 वर्षीय जीजा इरशाद खान पुलिस को बता चुका है कि वह युवती के साथ रिलेशनशिप में था और उससे शादी करना चाहता था। उनके रिश्ते पर परिवारवालों की आपत्ति से बचने के लिए उसने युवती से छेड़छाड़ की इस घटना की योजना बनाई।
सूत्रों के मुताबिक, छेड़छाड़ की घटना को अंजाम देने से पहले आरोपी ने रेकी कर पूरी प्लानिंग की थी। घटनास्थल के आस-पास कहां-कहां सीसीटीवी कैमरा लगे हैं, उसने इसकी पूरी पड़ताल की। घटना को अंजाम देने के बाद पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराने पहुंचने वालों में आरोपी भी शामिल था। प्लान के मुताबिक पुलिस के पास पहुंचने से पहले आरोपी उस शॉप पर गया जहां सीसीटीवी कैमरा का डिजिटल विडियो रिकॉर्डर रखा हुआ था। वहां से उनसे घटना की फुटेज ली और पुलिस से पहले मीडिया के पास पहुंचा। यहीं से वह शक के घेरे में आ गया।
पुलिस जांच में सामने आया कि पुलिस से पहले आरोपी दो अन्य लोगों के साथ विडियो फुटेज लेने पहुंचा था। आरोपी के साथ गए दो अन्य लोगों में युवती पर अटैक करने वाला व्यक्ति भी शामिल था। दरअसल घटनास्थल की रेकी करते वक्त आरोपी को यह पता नहीं चल पाया कि वहां एक और सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है। आरोपी की नजर से बचे इस कैमरे में घटना से ठीक पहले युवती और हमलावर के बीच बातचीत की फुटेज मिली है।