लखनऊ रैली में इकट्ठा हुए थे भाड़े के लोग : माया

लखनऊ। बीएसपी प्रमुख मायावती ने कहा, सोमवार को लखनऊ में मोदी की रैली में इकट्ठा हुई भीड़ भाडेÞ पर आई थी। वहीं उन्होंने नोटबंदी को लेकर भी पीएम पीएम पर बोला हमला। लखनऊ में संवाददाता सम्मेलन में मायावती ने कहा कि नोटबंदी काला अध्याय है। पीएम की बातों से ऐसा लगता नहीं कि वो उम्मीदों को पूरा करेंगे। अच्छे दिन के आसार नहीं है। पीएम के संबोधन से जनता निराश हुई है। लोगों को अपने पैसे खर्च करने की आजादी हो। मायावती ने कहा कि छोटे कारोबारियों को भी थी राहत की उम्मीद। लोग उम्मीद कर रहे थे कि खातों में 15 लाख आएंगे। लखनऊ रैली में भाड़े के लोग इकट्ठा हुए थे।
मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में टिकटों के बारे में बताते हुए कहा कि बीएसपी आगामी चुनावों में 85 एससी सीटों, 2 सामान्य सीटों पर कुल 87 एससी उम्मीदवारों को टिकट दी है। वहीं 97 मुस्लिमों उम्मीदवार, 113 सामान्य जाति के उम्मीदवार, जिनमें 66 ब्राह्मण, 36 क्षत्रिय और 11 कायस्थ उम्मीदवार शामिल है को टिकट दी गई है।
मायावती ने कहा कि पीएम मोदी यमराज बनकर लोगों का ना करें पीछा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को बताना चाहिए कि नोटबंदी के बाद अभी तक कितना काला धन जमा हुआ और लोगों को इससे कितना फायदा हुआ है। मायावती बोलीं कि नोटबंदी पर सरकार के साफ रुख ना होने से इस फैसले पर शक होता है, यह एक बिना प्लान के साथ लिया गया फैसला था जिसका कोई फायदा नहीं हुआ। सरकार अब इस मुद्दे से भागना चाह रही है।
मायावती बोलीं कि नोटबंदी पर सरकार के साफ रुख ना होने से इस फैसले पर शक होता है, यह एक बिना प्लान के साथ लिया गया फैसला था जिसका कोई फायदा नहीं हुआ। सरकार अब इस मुद्दे से भागना चाह रही है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के कारण छोटे व्यापारियों को बहुत परेशानी हुई है, पीएम ने लोगों से इस पर भी झूठे वादे किए जिस प्रकार उन्होंने 2014 के चुनावों में किए थे। बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि हम कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ हैं पर नोटबंदी के साथ नहीं है।