रामनाथ कोविंद को उम्मीद से ज्यादा वोट मिलेंगे, उनकी जीत 200 फीसदी तय : रघुवर दास

रांची। राष्ट्रपति चुनाव के लिए झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास भाजपा विधायक राधा कृष्ण किशोर और अनंत ओझा के साथ वोट डालने पहुंचे। वोट देने के बाद सीएम ने ट्वीट कर कहा कि रामनाथ कोविंद को उम्मीद से ज्यादा वोट मिलेंगे, उनकी जीत 200 फीसदी तय है। मुख्यमंत्री के मुताबिक, एक सामान्य व्यक्ति भी राष्ट्रपति बन सकता है। झारखंड विधानसभा के सभी 81 विधायकों ने राष्ट्रपति चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग किया। दूसरी ओर, होटवार जेल से पहुंचे भाजपा विधायक संजीव सिंह को वोट देने से रोक लिया गया। कहा गया कि बिना कोर्ट आॅर्डर के उनको वोट डालने नहीं दिया जाएगा। हालांकि बाद में कोर्ट का आॅर्डर पहुंचने पर उन्होंने वोट डाला।
नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन विपक्ष की टीम के साथ वोट देने पहुंचे। हेमंत ने कहा कि यह विचारधारा की लड़ाई है।जीत हार मायने नहीं रखती। आंकड़ा नहीं है तो इसका यह मतलब नहीं कि हम हर जुल्म सहेंगे। मंत्रियों में सीपी सिंह, सरयू राय, नीरा यादव, लुइस मरांडी, रणधीर सिंह ने वोट डाला है। भाजपा विधायक राज सिंह, मनीष जायसवाल बिरंची, रामकुमार पाहन नारायण और माले विधायक राजकुमार, भाजपा की महिला विधायक मंत्री लुईस मरांडी, नीरा यादव, विधायक विमला प्रधान, मेनका सरदार व निदर्लीय गीता कोड़ा एक साथ वोट डालने पहुंचीं।
निदर्लीय एनोस एक्का होटवार जेल से वोट देने व्हील चेयर से पहुंचे। एनडीए के घटक दल आजसू से मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी और विधायक विकास मुंडा ने वोट डाला। सिर्फ कांग्रेस की निमर्ला देवी और जेवीएम के प्रकाश राम बचे, अन्य सभी विधायकों ने अपने वोट डाल चुके हैं। कांग्रेस विधायक निमर्ला देवी वोट डालने पहुंची। चुनाव को लेकर मतदान परिसर में बनाए गए मतदान केंद्र पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। वोट आज शाम पांच बजे तक डाले जाएंगे। चुनाव को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष ने बैठक कर रविवार को अपनी रणनीति भी बनाई थी।
एनडीए विधायक दल की बैठक मुख्यमंत्री रघुवर दास के आवास में हुई जबकि विपक्ष की नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन के आवास में। राष्ट्रपति चुनाव के मद्देनजर चुनाव आयोग ने पयर्वेक्षक विपिन बिहारी मलिक को विशेष तौर पर रांची भेजा है। उन्होंने रविवार को मतदान स्थल में सभी तैयारियों का जायजा लिया। राष्ट्रपति चुनाव के लिए झारखंड लोकसभा के 14 व राज्य सभा के छह सांसदों के अलावा सभी 81 विधायक अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। राष्ट्रपति चुनाव के लिए सांसदों की मतों की वैल्यू पूरे देश की तरह 708 होगी जबकि प्रत्येक विधायकों के मतों का मूल्य 176 होगा। राज्य से 20 सांसद आते हैं, स्पष्ट है कि सभी सांसदों के मतों का मूल्य 14,160 होगा जबकि 81 विधायकों के मतों का मूल्य 14,256 होगा।
राष्ट्रपति चुनाव को लेकर झारखंड में विधायकों और सांसदों की स्थिति लगभग स्पष्ट है कि कौन किसे वोट देगा। लोकसभा के 14 सांसदों में से 12 भाजपा के हैं जबकि दो झामुमो के, ये किस खेमें में जाएंगे साफ है। इसी तरह राज्यसभा के छह सांसदों में दो भाजपा के और एक निदर्लीय परिमल नथवाणी एनडीए के साथ ही जाएंगे जबकि कांग्रेस, झामुमो और राजद के राज्यसभा सदस्य यूपीए प्रत्याशी मीरा कुमार का साथ देंगे। विधानसभा की बात करें तो भाजपा के 43 और एनडीए घटक दल आजसू के चार विधायक हैं। ये एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के पक्ष में ही मतदान करेंगे। जबकि गीता कोड़ा, भानु प्रताप शाही की एनडीए विधायक दल की बैठक में उपस्थिति से जाहिर है कि उनका मत कहां जाएगा। जबकि झामुमो के 19, कांग्रेस के सात, झाविमो के दो, भाकपा-माले के एक और मासस के एक विधायक का मत यूपीए प्रत्याशी मीरा कुमार को मिलेगा। बसपा विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता ने अपने स्टैंड का खुलासा नहीं किया है।
राष्ट्रपति चुनाव में भाग लेने के लिए जेल में बंद भाजपा के संजीव कुमार और झाविमो के प्रदीप यादव को मतदान में भाग लेने की अनुमति अदालत से मिल चुकी है। जबकि जेल में बंद कांग्रेस की निमर्ला देवी और झारखंड पार्टी के एनोस एक्का वोट डालने आएंगे या नहीं इसकी जानकारी खबर लिखे जाने तक नहीं मिल पाई थी। मनोनीत एंग्लो इंडियन सदस्य जोसेफ गालस्टिन इस चुनाव में वोट नहीं डालेंगे। मनोनीत सदस्य को राष्ट्रपति चुनाव में वोटिंग का अधिकार नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *