महिला हॉकी वर्ल्ड कप: आयरलैंड को हराकर 44 साल बाद विश्व कप सेमीफाइनल में जगह बनाने उतरेगी भारतीय हॉकी टीम

लंदन। अपने अभियान को ढर्रे पर लाने के बाद भारतीय महिला हॉकी टीम क्वॉटर फाइनल मुकाबले में ‘जॉइंट किलर’ आयरलैंड को हराकर 44 साल बाद विश्व कप सेमीफाइनल में जगह बनाने उतरेगी। भारत ने इटली को क्रॉसओवर मैच में हराकर क्वॉटर फाइनल में जगह बनाई है। मंगलवार को क्वॉटर फाइनल में आयरलैंड को हराने से भारतीय टीम दूसरी बार विश्व कप अंतिम चार में पहुंच जाएगी।
लड़की ने 20 किलो वजन कम करने के लिए इस फल का इस्तेमाल किया
भारतीय टीम इससे पहले 1974 में फ्रांस में हुए विश्व कप में सेमीफाइनल में पहुंची थी और टूर्नमेंट में चौथे स्थान पर रही थी। अर्जेंटीना के रोसारियो में पिछली बार हुए टूर्नमेंट में भारत आठवें स्थान पर रहा था। आयरलैंड ने पिछले 2 मुकाबलों में भारत को हराया है लिहाजा उसे मनोवैज्ञानिक बढ़त हासिल होगी। पूल बी में आयरलैंड की टीम भारत और अमेरिका जैसी टीमों के रहते शीर्ष रही थी। आयरलैंड ने यहां पूल चरण में हराने से पहले भारत को पिछले साल जोहानिसबर्ग में हॉकी विश्व लीग सेमीफाइनल में 2-1 से शिकस्त दी थी।

दुनिया की 16वें नंबर की टीम आयरलैंड ने अमेरिका को 3-1 और भारत को 1-0 से हराकर पहले ही इतिहास रच दिया है। भारतीय टीम ने इंग्लैंड और अमेरिका से 1-1 से ड्रॉ खेला और आयरलैंड से 0-1 से हार गई। भारत ने अभी तक एकमात्र जीत क्रॉसओवर मैच में इटली के खिलाफ 3-0 से दर्ज की। इस जीत से उसका आत्मविश्वास बढ़ा है। गोलकीपर सविता ने अभी तक शानदार प्रदर्शन किया है।

फॉरवर्ड पंक्ति ने मंगलवार को खेले गए मैच में एक ईकाई की तरह प्रदर्शन किया। कप्तान रानी ने कहा ,‘हम गोल करने में कामयाब रहे हैं और आगे भी लय कायम रखेंगे। हमारा सफर यहीं खत्म नहीं होने वाला।’ इस बीच दूसरे क्वॉटर फाइनल में नीदरलैंड का सामना मेजबान इंग्लैंड से होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *