उर्दू के महान लेखक और कहानीकार मंटो की तरह नवाज में कई समानतायें हैं : नंदिता दास

मुंबई। फिल्म अभिनेत्री और निर्माता नंदिता दास ने बताया कि फिल्म मंटो में मुख्य भूमिका के लिए उन्होंने नवाजूद्दीन सिद्दीकी को चुना क्योंकि उनमें उर्दू के महान लेखक और कहानीकार की तरह कई समानतायें हैं। नंदिता ने कहा कि ‘‘मंटो’ को लिखते वक्त उनके दिमाग में हमेशा नवाज ही रहे। वह इन दिनों इससे जुड़े कामों में ही मशगूल है।

नंदिता ने एक बयान में कहा कि उनमें मंटो की तरह ही उनके चेहरे पर गहरी संवेदना, क्रोध, तीव्रता और भाव विहीन हास्य जैसी कई समानतायें है। इन समानताओं के चलते ही नवाज के जरिये मंटो के चरित्र को पर्दे पर उतारने में मदद मिली। उन्होंने कहा कि मंटो का चरित्र बेहद जटिल है और ऐसे अभिनेता की जरूरत थी जो परस्पर विरोधी भावनाओं को पर्दे पर साकार कर सके। उन्होंने कहा कि उदाहरण के लिए वह नैतिक साहस वाले व्यक्ति थे। इसके बाद भी उन्हें जेल जाने का डर था, आत्मविास था लेकिन कमजोर, गहरी संवेदनशीलता थी लेकिन बेहद गुस्सा था। ‘‘मंटो’ में लोगों को नवाज में यह सब कुछ दिखेगा। यह फिल्म उर्दू के महान कहानीकार सआदत हसन मंटो की जिंदगी पर आधारित है। (भाषा)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *