उप्र सरकार युवाओं के सपनों को साकार करने के लिए रोजगार एवं स्वरोजगार के अवसर सृजित करने के लिए प्रतिबद्ध है : योगी

नई दिल्ली। योगी आदित्यनाथ ने रविवार को उत्तर प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली इसी के साथ यूपी में योगी युग का आगाज हो गया। शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लालकृष्ण आडवाणी और अमित शाह के अलावा तमाम बड़े नेता शामिल हुए। इसके बाद योगी आदित्यनाथ ने पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में यूपी की नई सरकार की प्राथमिकताओं को गिनाया और कहा कि हमारी सरकार राज्य में कानून-व्यवस्था दुरुस्त करने और सबके विकास के लिए सरकार काम करेगी। पहले दिन योगी सरकार की ओर से ये पांच बड़े ऐलान किए गए।
सीएम बनते ही योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अपने मंत्रियों के साथ अनौपचारिक मीटिंग की। इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान योगी सरकार की ओर से एक बड़ा ऐलान किया गया। यूपी की बीजेपी सरकार ने अपने सभी मंत्रियों को 15 दिन के भीतर प्रॉपर्टी का पूरा ब्यौरा सार्वजनिक करने को कहा गया है। इसी के साथ योगी सरकार ने साफ कर दिया कि भ्रष्टाचार के मामलों को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार युवाओं के सपनों को साकार करने के लिए रोजगार एवं स्वरोजगार के अवसर सृजित करने के लिए प्रतिबद्ध है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीजेपी के संपल्पपत्र में किए गए वादे पूरे किए जाएंगे।
अपने बयानों से अक्सर विवाद में आने वाले योगी आदित्यनाथ ने यूपी का सीएम बनते ही मंत्रियों को अनाप-शनाप बयान से दूर रहने को कहा है।।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने दो मंत्रियों श्रीकांत शर्मा और सिद्धार्थ नाथ सिंह को यूपी सरकार का प्रवक्ता नियुक्त किया है। ये दोनों नेता पार्टी के दिल्ली मुख्यालय में मीडिया सेल के प्रभारी रह चुके हैं।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया कि खेती को यूपी के विकास का आधार बनाया जाएगा और किसानों की उन्नति सरकार की प्राथमिकता में होगी। साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया कि ग्रामीण इलाकों के विकास के लिए अलग से योजना बनाकर काम किया जाएगा।
रविवार को लखनऊ के स्मृति उपवन में सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ 46 मंत्रियों ने शपथ ली। इसमें 22 कैबिनेट और 13 राज्य मंत्री शामिल किए गए हैं। केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा डिप्टी सीएम बनाए गए हैं। टीम योगी में क्षेत्रीय और जातीय संतुलन बिठाने की कोशिश भी की गई है। पूर्वांचल से 17 मंत्रियों को कैबिनेट में जगह मिली है। जबकि 17 ओबीसी चेहरे भी कैबिनेट में शामिल किए गए हैं।
योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण में बीजेपी के दिग्गजों का जमावड़ा दिखा। पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ लालकृष्ण आडवाणी और तमाम बीजेपी नेता शामिल हुए। शपथ ग्रहण में बेटे अखिलेश के साथ मुलायम सिंह यादव भी पहुंचे। मुलायम और अखिलेश मंच पर पीएम मोदी से गमर्जोशी से मिले। शपथ ग्रहण के बाद पीएम मोदी के करीब पहुंचकर मुलायम ने हाथ पकड़कर उनके कान में कुछ फुसफुसाया। इसपर मोदी मुस्करा दिए।
योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने पर उनके शहर गोरखपुर में योगी-योगी के नारे लगे और समथर्कों ने जमकर जश्न मनाया। यूपी के महाराजगंज में योगी के सीएम बनने पर अबीर-गुलाल के साथ लोगों ने जश्न मनाया। उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में योगी के पैतृक गांव पंचूर में भी लोगों ने जश्न मनाया। घर के बाहर होली जैसा माहौल दिखा। बड़ी संख्या में पहुंचकर लोगों ने योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट को बधाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *